बिहार में दरभंगा के बाद गोपालगंज में एयरपोर्ट चालू होने की बढ़ी उम्मीद।

बिहार में दरभंगा के बाद जल्द एक नये एयरपोर्ट चालू होने की उम्मीद तेज हो चली है। जी हां बता दें कि उत्तर बिहार का प्रमुख केन्द्र बिन्दु माने जाने वाले दरभंगा में उड़ान योजना के तहत हवाई सेवा चालू की गई थी। चालू होने के बाद दरभंगा एयरपोर्ट को बेहतर रिस्पांस मिल रहा है। जहां अधिक यात्रियों के मामले में दरभंगा एयरपोर्ट लगातार उपलब्धि हासिल कर रही है।

दरभंगा में एयरपोर्ट के बाद बिहार में एक और नये एयरपोर्ट के चालू होने की उम्मीद बढ़ चली हैं। दरअसल गोपालगंज के सांसद ने लोकसभा में गोपालगंज के सबेया एयरपोर्ट को चालू करने का मुद्दा उठाया। जिसमें सासंद महोदय ने अपनी बात रखते हुए कहा कि गोपालगंज का सबेया एयरपोर्ट दुसरे विश्व युद्ध में काफी मददगार साबित हुआ था। वहीं दूसरी ओर सबेया एयरपोर्ट का रनवे अधिक लंबा हैं। जिसका मरम्मत कर कम लागत में हवाई सेवा बहाल की जा सकती है।

साथ ही यह भी बताया कि सबेया एयरपोर्ट की जमीन को लेकर रक्षा मंत्रालय ने रिपोर्ट जारी किया है। जिसमें करीब 338 एकड़ जमीन पर लोगों ने अतिक्रमण किया हुआ है। इसे रक्षा मंत्रालय की मदद और बिहार सरकार के माध्यम से जिला प्रशासन को कागजात उपलब्ध कराया जाए। जिससे कि सबेया एयरपोर्ट को हवाई उड़ान चालू करने लायक बनाया जा सके। सासंद के मुताबिक बिहार में विदेशी मुद्रा सबसे ज्यादा गोपालगंज और सीवान में आता है, इसका कारण यह है कि गोपालगंज और सीवान समेत सीमावर्ती क्षेत्र और आसपास के जिलों के लोग खाड़ी देशों में रोजगार के सिलसिले में रहते हैं।

लोगों की मुश्किल होगी आसान

जिन्हें गोपालगंज से दूर 150 या 200 किलोमीटर दूर जाकर दिल्ली के लिए फ्लाइट ले पाते हैं। वहीं दिल्ली के लिए गोपालगंज की कोई सीधी ट्रेन नहीं है। मगर सबेया एयरपोर्ट चालू हो जाने से लोगों की मुश्किल काफी हद तक आसान हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.