दरभंगा एयरपोर्ट के विकास और विस्तार को लेकर प्रकिया तेज।

दरभंगा एयरपोर्ट के विस्तार और विकास की प्रकिया में तेजी आने की संभावना बढ़ चली हैं। इसकी वजह बता दें कि मुख्य सचिव आमिर सुबहानी की अध्यक्षता में 09 मई को हुई बैठक में बिहार के सभी एयरपोर्ट के विकास और विस्तार को लेकर इससे संबंधित विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, सचिव तथा संबंधित डीएम के साथ ऑनलाइन मीटिंग की गई। जिसमें दरभंगा, पटना, बिहटा, पूर्णियां, भागलपुर, मुंगेर, मुजफ्फरपुर, गोपालगंज, सोनपुर, रक्सौल, फारबिसगंज एयरपोर्ट को विकसित करने की दिशा में समीक्षा की गई।

लंबित कार्य अविलंब पूरा

मालूम हो कि बिहार में फिलहाल तीन एयरपोर्ट पटना, गया और दरभंगा एयरपोर्ट से हवाई सेवा चालू हैं। इसके अलावा भागलपुर, रक्सौल और गोपालगंज एयरपोर्ट को चालू करने की आवाज लगातार उठ रही है। बता दें कि मुख्य सचिव आमिर सुबहानी की अध्यक्षता में हुए समीक्षा बैठक में पटना, बिहटा और दरभंगा के साथ ही पूर्णिया, रक्सौल, भागलपुर, मुंगेर, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर, सोनपुर और फारबिसगंज में एयरपोर्ट विकसित करने के निर्देश दिए गए। इस बैठक के दौरान सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए गए कि जिन-जिन जिलों में हवाई अड्डा निर्माण की योजना प्रस्तावित है वहां जमीन अधिग्रहण से लेकर अन्य सभी लंबित कार्यों को अविलंब पूरा किया जाए।

जल्द ही जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू

दरभंगा एयरपोर्ट को लेकर डीएम राजीव रौशन ने बैठक में बताया कि एयरपोर्ट के मुख्य द्वार से लेकर अंतिम छोर तक व्यू कटर लगवा दिया गया है। जिससे कि सड़क से एयरपोर्ट नहीं दिखाई दे। वहीं हवाई अड्डा को दी जाने वाली 24 एकड़ जमीन में 19 एकड़ जमीन की घोषणा हो गई है, जल्द ही अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। साथ ही नेशनल हाईवे-105 में दिल्ली मोड़ से दो किलोमीटर तक सड़क चौड़ीकरण करवाने का प्रस्ताव दिया गया, जिससे जाम की समस्या खत्म हो सके। साथ ही यह जानकारी मिली कि इस सड़क का चौड़ीकरण का प्रस्ताव पारित हो गया है, जल्द ही काम शुरू किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.