दरभंगा में पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रों ने मचाया जमकर उत्पात, राह चलते लोगों को भी बनाया शिकार।

दरभंगा पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रों का उपद्रव कोई नई बात नहीं है। आए-दिन पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्र और स्थानीय लोगों में झड़प की खबरें सामने आती रहती है। लेकिन इस सब से प्रशासन बेखबर है, इसका नतीजा यह होता है कि पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रों का मनोबल काफी बढ़ता जा रहा है‌। मालूम हो कि दरभंगा पॉलिटेक्निक कॉलेज में बिहार समेत अन्य राज्यों के विधार्थी पढ़ाई करने पहुंचते हैं। लेकिन उनमें से कई बच्चे पढ़ाई के नाम पर गुंडागर्दी या गुटबाजी को ही अपना शौक बना लेते हैं। ताजा मामला मंगलवार की हैं। एलएनएमयू और संस्कृत विश्वविद्यालय के बीच कैंटीन के आसपास करीब 40 से भी ऊपर की संख्या में पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्र हाथ में हॉकी स्टिक और लाठी-डंडे से लैस होकर पहुंचे थे। जहां छात्रों और स्थानीय लोगों के साथ मारपीट की।

विश्वविद्यालय कैंपस बना युद्ध स्थल

हालांकि इस मारपीट के पीछे का कारणों का पता अभी तक नहीं चल पाया है। यहां तक कि पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्र इतने उग्र हो गए थे कि सरेराह चल रहे लोगों के साथ भी मारपीट कर रहे थे। विश्वविद्यालय कैंपस ना होकर युद्ध क्षेत्र का माहौल बना हुआ था। बता दें कि इस घटना में कई लोगों की हालत काफी गंभीर हैं। वहीं घायलों को डीएमसीएच में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। घटना के बाद पुलिस जब तक वहां पहुंचती, पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्र भाग निकले थे। जिसके बाद घायल छात्रों की निशानदेही पर पुलिस ने पॉलिटेक्निक कॉलेज से 6 छात्रों को गिरफ्तार कर विश्वविद्यालय थाना ले आई।

जमकर मारपीट

बताते चलें कि मंगलवार की रात संस्कृत विश्वविद्यालय परिसर में पॉलिटेक्निक कॉलेज के छात्रों ने जमकर उत्पात मचाया। इतने संख्या में लाठी-डंडों से लैस होकर पहुंचे थे जहां छात्रों और स्थानीय लोगों के साथ मारपीट की। इसमें वहां से गुजरने वाले राहगीरों को भी नहीं बख्शा। लात-घूंसे, हॉकी स्टिक और लाठी-डंडों से जमकर मारपीट की‌ जिसमें कपड़े फटने से लेकर मुंह और आंखों के पास भी लोगों को चोटें आई। हालांकि अभी तक इस घटना को लेकर पुलिस की तरफ से कोई सूचना बाहर नहीं आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.