खोज करे
  • DARBHANGA CITY

पूरे देश के लोगों की धड़कन बन चुके सोनू सूद 50 लड़कियों के लिए किसी मसीहा से कम नहीं।


कोरोना काल में सोनू सूद ने लाखों प्रवासी मजदूरों के मददगार साबित हुए, वहीं फिर से सोनू ने एक बार दिल जीत लिया है। बताते चलें कि झारखंड के एक गांव में करीब 50 लड़कियों ने नौकरी गंवा दी थी। उन सभी लड़कियों के लिए सोनू सूद ने मदद का हाथ बढ़ाया है।


लड़कियों ने माना सोनू को आखिरी उम्मीद


बता दें कि सोशल मीडिया के माध्यम से सोनामुनि नाम से एक यूजर ने सोनू सूद से मदद की गुहार लगाई। जिसने ट्वीट किया कि, हम झारखंड के धनबाद जिले से है। लॉकडाउन की वजह से हमारी और हमारे गांव के 50 लड़कियां नौकरी गंवा चुके हैं। और हम लोग बेरोजगार हो गए है, तथा हमें नौकरी की सख्त जरूरत है। प्लीज हमारी मदद करें।


इससे पहले भी मदद करने को आगे आ चुके हैं


सोनू सूद की दरियादिली से तो लोग पहले ही भली-भांति वाकिफ हैं। सोनू को आखिरी उम्मीद मान रहे लड़कियों को सोनू ने एक सप्ताह के अंदर नौकरी उपलब्ध कराने का वादा किया है। मालूम हो कि हाल ही में खेत जोतते गरीब किसान की बेटियों का वीडियो वायरल होने पर उसको ट्रैक्टर भेजकर मदद की थी। इतना ही नहीं सब्जी बेच रही सॉफ्टवेयर इंजीनियर का इंटरव्यू लेकर जॉब लेटर दिया था।

104 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें