खोज करे
  • DARBHANGA CITY

आमस-दरभंगा एक्सप्रेस-वे निर्माण को लेकर जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया पूरी, जल्द निर्माण कार्य शुरू।



बिहार का पहला आमस-दरभंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना को लेकर जमीन अधिग्रहण का कार्य पूरा कर लिया गया है। बताते चलें कि जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया 4 माह के भीतर पूरी कर ली गई है। वहीं अब इसके बाद टेंडर प्रक्रिया जारी कर निर्माण एजेंसी का चयन किया जाएगा। जिसके बाद जल्द सड़क निर्माण को लेकर कार्य शुरू कर दिया जाएगा। मालूम हो कि इससे दक्षिण बिहार और उत्तर बिहार का सीधा संपर्क स्थापित होगा, जहां इस सड़क से पटना का गया और दरभंगा एयरपोर्ट से डायरेक्ट कनेक्टिविटी होगी।


2024 तक पूरा करने का लक्ष्य



बताते चलें कि गया से नालंदा के करायपरसुराय व पटना के कच्ची दरगाह, हाजीपुर के कल्याणपुर समस्तीपुर के ताजपुर से होते हुए दरभंगा के बेला-नवादा में एनएच-27 से मिल जाएगा। 189 किलोमीटर लंबे आमस-दरभंगा एक्सप्रेस-वे का निर्माण एनएचएआई द्वारा किया जाएगा। एक्सप्रेस-वे की पूरी परियोजना ग्रीनफील्ड यानि नई सड़क होगी। प्रस्तावित फोरलेन का निर्माण 2024 तक पूरा किए जाने का लक्ष्य रखा गया है।


एक्सप्रेस-वे की पूरी परियोजना ग्रीनफील्ड



आमस-दरभंगा एक्सप्रेस-वे निर्माण के पहले फेज में आमस से शिवरामपुर के कुल लंबाई 55 किलोमीटर पर 1073 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। दूसरे फेज में शिवरामपुर से रामनगर के करीब 54 किलोमीटर पर 1066 करोड़ रुपए की राशि, तीसरे फेज में कल्याणपुर से पाल दशहरा के 45 किलोमीटर पर 1150 करोड़ तो वहीं चौथे फेज में पाल दशहरा से दरभंगा बेला-नवादा के 44 किलोमीटर पर 1534 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। दरभंगा एयरपोर्ट के नजदीक ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर तक इस सड़क का निर्माण किया जाएगा। एक्सप्रेस-वे की पूरी परियोजना को ग्रीनफील्ड रखा गया है।

8102 व्यूज0 टिप्पणियाँ