खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा में ऑटो चालकों द्वारा मनमाना किराया लेने पर कसी जाए नकेल।

अपडेट करने की तारीख: अग. 6



दरभंगा में ऑटोरिक्शा एवं टेंपों चालक द्वारा मनमाना किराया वसूला जा रहा है। बता दें कि कोरोना के कारण लगी लॉकडाउन का फायदा उठाकर निजी वाहन चालक लोगों से अधिक किराया ले रहे हैं। जहां पहले से अधिक दो गुना ज्यादा किराया लिया जा रहा है, वहीं कोविड-19 के नियमों का उल्लघंन कर ऑटो चालक क्षमता से अधिक पैसेंजरों को बिठा रहे हैं। मालूम हो कि सरकार ने प्राइवेट वाहनों को क्षमता से आधा सवारी बैठाने एवं पहले से निर्धारित किराया लेने का आदेश जारी किया है। परन्तु निजी चालक मनमाना किराया पैसेंजरों से वसूल रहे हैं।


पहले से दुगुना किराया



बता दें कि कादिराबाद से हसन चौक का किराया 10 रुपए, मिर्जापुर-20, रेलवे स्टेशन-20, दोनार-30, लहेरियासराय-30, करमगंज-30, दरभंगा टावर-20, दिल्ली मोड़-20 समेत अन्य जगहों तक का किराया पहले से सीधा दुगुना कर दिया गया है। इसमें रोजाना आने-जाने वाले लोग बढ़ते किराया-भाड़ा से त्रस्त है। सरकार द्वारा निर्धारित किराए का कहीं अनुपालन नहीं हो रहा है और ना ही कहीं किसी वाहन में किराया से संबंधित तालिका उपलब्ध हैं। लिहाजा उनकी मनमानी का खामियाजा यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है।


स्थानीय प्रशासन को किमी की दर से किराया तय करने की जरूरत



मालूम हो कि किराया-भाड़ा का निर्धारण कमिश्नर कार्यालय से होता है। वहीं इसका अनुपालन कराने की जिम्मेदारी जिला परिवहन पदाधिकारी का होता है। मनमाना किराए वसूली को लेकर जिला परिवहन पदाधिकारी को इस पर सख्त कदम उठाने की जरूरत है, जिससे निर्धारित किराया में पार्दर्शिता लाई जा सके। ऑटो से सफर करने वाले लोग इसके लिए स्थानीय प्रशासन को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं। उनके अनुसार स्थानीय प्रशासन को किलोमीटर के हिसाब से किराया निर्धारित कराने की जरूरत है।

703 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें