खोज करे
  • DARBHANGA CITY

बिहार में सरकारी एवं प्राइवेट बस का बढ़ा किराया, लोगों का सफर होगा मंहगा।


बिहार के लोगों की जेब पर फिर अतिरिक्त बोझ पड़ेगी। जी हां, बताते चलें कि अब लोगों का सफर आसान नहीं बल्कि मंहगा होने वाला है। परिवहन विभाग ने प्राइवेट एवं सरकारी बसों का किराया बदला हुआ किराया निर्धारित कर दिया है। बढ़े हुए किराए की नये दरों को क्षेत्रीय परिवहन विभाग की कार्यालय की तरफ से अंतिम मुहर लगने के बाद लागू किया जाएगा। वहीं संशोधित किराए की नयी दर से लोगों की जेब ढ़ीली होगी।


नयी दरें



किराया की बात करें तो नये आदेश के बाद साधारण बस सेवा के लिए डेढ़ रूपया प्रति किलोमीटर, डीलक्स बस सेवा के लिए 1.70 रूपए प्रति किमी, डीलक्स एसी बस के दो रूपए प्रति किमी, वॉल्वो व मर्सिडीज बसों के लिए 2.50 रूपए प्रति किमी की दर से नया किराया निर्धारित किया गया है। इसके साथ ही सिटी बस सेवा के लिए पहले 4 किलोमीटर के लिए 1.60 रूपए प्रति किलोमीटर और इसके बाद प्रत्येक दो किलोमीटर पर 1.50 रूपए की दर से किराया लेने का प्रस्ताव हैं। लंबी दूरी की बसों में परिवहन विभाग ने 101 से 250 किमी की दूरी तक बेसिक किराया दर के आधार पर निर्धारित किराए में 20 फीसदी एवं 250 किमी से ज्यादा दूरी के लिए निर्धारित किराए में 30 फीसदी की कमी लाते हुए किराया निर्धारित करने को कहा है।


मनमाने किराए पर कसेगी लगाम



बताते चलें कि नये किराए दर निर्धारित करने के पीछे परिवहन विभाग का मुख्य उद्देश्य मनमाने किराये पर रोक लगाना है। परिवहन विभाग के इस फैसले का बिहार मोटर ट्रांसपोर्ट फेडरेशन ने स्वागत किया हैं। नया किराया दर बढ़ने से 10-20 रूपए का अंतर आएगा। हर पड़ाव जहां बस रूकेगी वहां भाड़े की तालिका भी रहेगी। वहीं अगर निर्धारित दरों से अगर ज्यादा भाड़ा वसूला जाएगा तो उसपर कारवाई की जाएगी तथा साथ ही सभी बसों में एक शिकायत पंजी उपलब्ध होगी।

2827 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें