खोज करे
  • DARBHANGA CITY

मधुबनी में दिल्ली-मुंबई से आने वाली ट्रेनों में मिले 45 कोरोना संक्रमित यात्री, तीसरी लहर की आशंका।


कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार ज्यों-ज्यों कम होती गई, उसी तरह लोगों ने लापरवाही बरतनी शुरू कर दी। लेकिन अब यही लापरवाही भारी पड़ सकती है। जी हां, बता दें कि कोरोना की तीसरी लहर की आशंका फिर से बढ़ने लगी है। पिछले दो दिनों में दिल्ली, मुंबई समेत अन्य राज्यों से आने वाले लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो रही है। रेलवे स्टेशनों पर कोविड-19 टेस्ट पर जोर दिया जा रहा है, जिस कड़ी में मधुबनी में बाहर से आने वाले 45 यात्रियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है।


इन ट्रेनों से आने वाले 45 यात्री संक्रमित



नई दिल्ली से आने वाली स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस में 24 संक्रमित एवं लोकमान्य तिलक टर्मिनल-जयनगर पवन एक्सप्रेस में 13 यात्री संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही मधुबनी जिले में कोरोना मरीजों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही है। इतने संक्रमित मिलने की पुष्टि सिविल सर्जन ने की है। वहीं मधुबनी में इतनी संख्या में संक्रमित व्यक्ति मिलने के बाद तीसरी लहर की शुरुआती स्थिति भी मानी जा रही है। वहीं इसके बाद स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया है।


लापरवाही पड़ेगी भारी



बिहार में कोरोना प्रोटोकॉल को लेकर लोग अब बेपरवाह होकर निकलने लगे हैं। जहां अधिकांशतः लोग बिना मास्क के सड़कों पर देखे जा रहे हैं, वहीं ना तो साफ-सफाई का ख्याल रखा जा रहा है। लेकिन अब इसमें थोड़ी सी भी ढ़िलाई लोगों को भारी पड़ सकती है। भीड़-भाड़ का हिस्सा बनने से बचें, जहां तक हो सके दूरी बनाकर चलें। सुरक्षा के दृष्टिकोण को अपनाते हुए मास्क एवं साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखकर संक्रमण से बचा जा सकता है।

1913 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें