खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा एम्स निर्माण की प्रक्रिया शुरू।


दरभंगा एम्स के निर्माण को लेकर जोर-शोर से प्रक्रिया शुरू हो गई है। बता दें कि इसको लेकर डीएमसीएच परिसर में एम्स के लिए प्रस्तावित जमीन का मुआयना करने केंद्र की तकनीकी कमेटी दो सदस्यीय टीम शनिवार को ही दरभंगा पहुंची। केंद्रीय टीम द्वारा निरीक्षण के दौरान कर्पूरी चौक के पास लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। केंद्र की टीम में शामिल मुख्य आर्किटेक्ट एवं अधीक्षण अभियंता जीपी श्रीवास्तव ने डीएमसीएच के प्राचार्य समेत अन्य विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की।


मास्टर प्लान तैयार कर होगा एम्स निर्माण


जिसके बाद एम्स के लिए उपलब्ध जमीन के नक्शे को बारीकी से देखा गया। केंद्रीय टीम के सदस्यों ने ये भी बताया कि एम्स के चहारदीवारी निर्माण को ग्रीन सिग्नल मिल गया है। एम्स बनाने को लेकर एजेंसी चयनित किया जा चुका है। एम्स निर्माण को लेकर सबसे पहले मास्टर प्लान तैयार कर 750 बेड का अस्पताल, क्वार्टर और हॉस्टल बनेगा। फिर धीरे-धीरे आवश्यकतानुसार दूसरे फेज में तैयार किया जाएगा।


एम्स निर्माण से लोगों को मिलेगी बेहतर मेडिकल सुविधा


केंद्रीय टीम दरभंगा से लौटकर एम्स की रिपोर्ट केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को सौंपेगी। टीम के दौरे से एम्स निर्माण कार्य में तेजी आएगी। बता दें कि दरभंगा एम्स को चार साल में तैयार करने की योजना बनाई गई है। मिथिलांचल में एयरपोर्ट के बाद एम्स बन जाने से उत्तर बिहार, नेपाल एवं बंगाल तक के लोगों को बेहतर मेडिकल सुविधा उपलब्ध होगी। वहीं एम्स निर्माण होने से लोगों को रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।

548 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें