खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा एम्स निर्माण में आ रही समस्या हुई दूर।


दरभंगा एम्स निर्माण को लेकर लंबी समय से प्रकिया चल रही है, लेकिन अभी तक कोई कार्य शुरू नहीं किया जा सका है। लेकिन अब इसको लेकर अच्छी खबर सामने आ रही है। बता दें कि दरभंगा एम्स के निर्माण को लेकर जमीन की बाधा समाप्त कर ली गई है। राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग ने राज्य सरकार के फैसले पर अमल करते हुए दो सौ एकड़ जमीन देने की प्रक्रिया पूरी कर ली है। इस प्रक्रिया में जमीन का हस्तांतरण भारत सरकार के नाम किया गया है।


मिलेगी बेहतर मेडिकल सुविधा



इस जमीन के एवज में केंद्र सरकार को कोई भुगतान नहीं करना हैं। मालूम हो कि दरभंगा एम्स निर्माण में आने वाली सबसे बड़ी समस्या जमीन की थी, जिसे अब दूर कर लिया गया है। दरभंगा में एम्स बन जाने से प्रतिदिन ढ़ाई हजार से अधिक मरीजों का इलाज हो सकेगा। बिहार का दूसरा एम्स दरभंगा में बनने से उत्तर बिहार के लोगों को मेडिकल के लिए दूसरे जगह जाने की समस्या खत्म हो जाएगी‌। लोगों को बेहतरीन मेडिकल सुविधा उपलब्ध होगी।


कुछ संरचनाएं बढ़ा सकती है समस्या



बताते चलें कि दरभंगा एम्स के लिए प्रस्तावित दो सौ एकड़ जमीन की कुछ संरचनाएं समस्या बढ़ा सकती है। जिसमें डीएमसीएच के आवासीय परिसर के अलावा एक पुलिस थाना, लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के कार्यपालक अभियंता का आवास, स्टेट बैंक और पोस्ट ऑफिस भी इसी जमीन पर हैं। एम्स की जमीन के बड़े हिस्से पर कॉलेज और अस्पताल के उपयोग के लिए आवास बने हैं। राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग की अधिसूचना में कहा गया है कि अगर इस जमीन का इस्तेमाल एम्स के लिए नहीं किया गया तो यह फिर से पुराने स्वामित्व में चली जाएगी।

522 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें