खोज करे
  • DARBHANGA CITY

सफल एयरपोर्ट में शुमार दरभंगा का नाम, पर यात्री सुविधाओं में फिसड्डी।


दरभंगा एयरपोर्ट से हवाई सफर करने वाले यात्रियों को बारिश में काफी परेशानी उठानी पड़ रही है, बता दें कि दरभंगा एयरपोर्ट से बढ़ती हवाई उड़ानों के बीच बुनियादी सुविधाओं का घोर अभाव है। इसके विकास को लेकर एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने योजनाएं तो बनाई है, परन्तु इसपर कोई कार्य अभी तक शुरू नहीं किया जा सका है।


अस्थायी टर्मिनल के विस्तार की योजना




दरभंगा में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने राज्य सरकार से टर्मिनल और रनवे विस्तार के लिए, 54 और 24 एकड़ ज़मीन की माँग को लेकर पहले ही प्रस्ताव भेज रखा है। मगर जमीन अधिग्रहण में हो रहे विलंब के बीच वायुसेना के ज़मीन को लेकर, इस अतिरिक्त ज़मीन पर सुविधाओं के विस्तार की कोशिश एयरपोर्ट अथॉरिटी द्वारा की जा रही है। मालूम हो की मौजूदा वक्त में दरभंगा का सिविल एनक्लेव 2.3 एकड़ में फैला हुआ है, जिसके बीच अतरिक्त 2.43 एकड़ ज़मीन को वायुसेना से लेने की कोशिश चल रही है। जिसके बाद इस पर तत्काल व्यवस्था के तहत एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया यात्री सुविधा के लिए मौजूदा टर्मिनल का विस्तार करेगी। मालूम हो की दरभंगा मे यात्रियो की बढ़ती संख्या के बीच, टर्मिनल पर अत्याधिक दवाब महसूस किया जा रहा है। वायुसेना से अतिरिक्त ज़मीन मिलने पर एयरपोर्ट अथॉरिटी के पास कुल साढ़े चार एकड़ ज़मीन मौजूद होगी। बताते चलें की दरभंगा एयरपोर्ट पर रोज़ आने जाने वाले यात्रियों की संख्या दो हज़ार से उपर पहुँच गयी है। इससे जुड़े आँकड़ो की बात करे तो, 19 जून के आँकड़ो के अनुसार दरभंगा मे 16 फ्लाइट के साथ कुल 2139 यात्रियों की उपस्थिति दर्ज की गयी। वही इडिंगो के आने के बाद इसमें और बढ़ोतरी होने की बात कही जा रही है।


यात्री सुविधा नदारद



दरभंगा एयरपोर्ट यूं तो देश के सफलतम हवाई अड्डों में शुमार किया जाने लगा है, लेकिन यात्री सुविधाओं के नाम पर अब तक फिसड्डी साबित हुआ है। दरभंगा एयरपोर्ट को चालू हुए करीब 8 महीने हो चुके हैं, जहां शुरुआत में स्पाइसजेट कंपनी ने अपनी विमान सेवा दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु के लिए शुरू की थी। वही धीर-धीरे अहमदाबाद, पुणे, हैदराबाद और कोलकाता रूट पर फ्लाइट उड़ान भरने लगी हैं। अब तो स्पाइसजेट को टक्कर देने इंडिगो की फ्लाइट भी मैदान में उतर रही है, जहां 05 जुलाई से विदेश समेत कई शहरों के लिए कनेक्टिंग फ्लाइट की सुविधा यात्रियों को उपलब्ध हो जाएगी।


सुविधा विस्तार की बातें हवा-हवाई



हालांकि दरभंगा एयरपोर्ट से विमानों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी होने के बावजूद यात्रियों को टर्मिनल आने-जाने में परेशानी हो रही है। टर्मिनल पर बैठने की सीमित सीट, यात्री शेड, शौचालय, वेटिंग शेड, रोड से टर्मिनल और टर्मिनल से मेन रोड तक सामान के साथ पैदल चलने की मजबूरी, बारिश में भींगते हुए यात्रियों को पहुंचना पड़ता है। यात्री सुविधाओं में विस्तार को लेकर नेतागण से लेकर एयरपोर्ट अथॉरिटी भी जल्द सुधार करने की बात करते हैं, मगर अब तक इसका कोई ठोस निष्कर्ष नहीं निकाला जा सका है।

3410 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें