खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा एयरपोर्ट पहुंचने वाले रास्ते में जलजमाव, यात्रियों को परेशानी।



दरभंगा एयरपोर्ट से हवाई सेवा बहाल हुए करीब 9 महीने हुए हैं। परन्तु एयरपोर्ट पर फ्लाइट से आवाजाही करने वाले यात्रियों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। बता दें कि दरभंगा एयरपोर्ट के प्रवेश द्वार पर बारिश की वजह से जलजमाव जमा हो गया है, पिछले कई दिनों से वहां पर पानी लगा है। जिससे फ्लाइट पकड़ने वाले यात्रियों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। जैसा कि बता दें, हवाई सेवा बहाल होने से आम से लेकर खास लोगों को काफी सहूलियत मिली है, तो वहीं दूसरी तरफ एयरपोर्ट पर बुनियादी सुविधाओं का घोर अभाव हैं, जिसका खामियाजा यात्रियों को भुगतना पड़ रहा है।


एयरपोर्ट एरिया में जल्द हो पार्किंग की व्यवस्था




एयरपोर्ट एरिया में एंट्री करने के लिए हाइवे से पैदल ही जाना पड़ रहा है। दूर-दूर तक कोई सामान-लगेज उठाने की कोई सुविधा नहीं है। एयरपोर्ट में पार्किंग की सुविधा नहीं है, जिसे तत्काल दुरुस्त करने की जरूरत है। फ्लाइट से आने-जाने वाले को मेन रोड तक अपना सामान खींच कर ले जाना पड़ रहा है। हालांकि इसमें बुजुर्ग, दिव्यांग एवं गर्भवती महिलाओं को राहत मिली है, जो अब टर्मिनल तक निजी वाहन को ले जा सकते हैं।


टर्मिनल पर बैठने की पर्याप्त व्यवस्था नहीं




वहीं एयरपोर्ट टर्मिनल के काउंटर पर यात्रियों के बैठने की प्रर्याप्त जगह नहीं है। क्योंकि वहां सिर्फ 110 कुर्सियां ही लगाई गई है। जबकि एयरपोर्ट पर सैकड़ों यात्री हवाई उड़ान को पहुंच रहे हैं। यात्री खड़े-खड़े अपना समय गुजारते हैं, जो उन्हें असहनीय महसूस हो रहा है। मालूम हो कि विमान में एक साथ 192 यात्रियों के बैठने की सीट है। ऐसे में टर्मिनल पर यात्रियों के बैठने की व्यवस्था अविलंब एयरपोर्ट अथॉरिटी को करने की कोशिश करनी चाहिए। एयरपोर्ट के आसपास किसी तरह का स्टॉल उपलब्ध नहीं होने से भी यात्री परेशान हो रहे हैं। लंबे समय तक एयरपोर्ट पर रूके रहने के बावजूद, ना तो वहां चाय का स्टॉल हैं, और ना ही खाने-पीने की कोई सामान उपलब्ध हो पा रही है।


पीएम ने बांधे तारीफों के पुल



सोशल मीडिया पर दरभंगा एयरपोर्ट की व्यवस्था को लेकर लगातार सवाल खड़े किए जा रहे हैं। यहां तक कि एक यात्री ने ट्विटर पर फोटो शेयर कर लिखा कि ये वहीं एयरपोर्ट हैं, जिसकी प्रधानमंत्री ने तारीफ की है। मालूम हो कि कुछ दिनों पहले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दरभंगा एयरपोर्ट की तारीफ के पुल बांधे थे, जिसमें इतने कम दिनों में अधिक यात्रियों ने रिकॉर्ड तोड़ हवाई यात्रा की वहीं 3 फ्लाइट से शुरू हुई विमान की संख्या अब 10 तक जा पहुंची है। लेकिन एयरपोर्ट पर सुविधाओं के नाम पर वहीं धाक के तीन पात वाली कहावत चरितार्थ हो रही है।

482 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें