खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा एयरपोर्ट की बढ़ी लोकप्रियता, यात्रियों के मामले में पीछा छूटा पटना एयरपोर्ट।



उत्तर बिहार का इकलौता एयरपोर्ट हैं दरभंगा एयरपोर्ट, जिसकी लोकप्रियता एवं सफलता दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। यही नहीं अब तो दरभंगा एयरपोर्ट ने पटना एयरपोर्ट को भी पीछे छोड़ दिया है। बताते चलें कि दरभंगा में एयरपोर्ट चालू हुए अभी एक साल भी नहीं हुआ है, परन्तु यहां से हवाई उड़ान को लेकर केवल मिथिलांचल ही नहीं बल्कि सीमांचल के लोग भी लाभ उठा रहे हैं। दरभंगा एयरपोर्ट से आज आसानी से देश के महानगरों तक सीधी उड़ान सेवा यात्रियों को उपलब्ध हो रही है।


दरभंगा एयरपोर्ट बनी पहली पसंद



वहीं इन सब के बीच पटना एयरपोर्ट की बात करें तो अब पहले की तरह यात्रियों की भीड़ कम हो गई है। जिसकी सबसे बड़ी वजह दरभंगा एयरपोर्ट हैं, जहां से कई शहरों के लिए उड़ान शुरू होने से लोगों की निर्भरता अब पटना एयरपोर्ट नहीं बल्कि दरभंगा एयरपोर्ट पर हैं। पटना से दिल्ली और दिल्ली से पटना आने-जाने वाली फ्लाइटों में यात्रियों की संख्या लगातार कम होती जा रही है। वहीं कोलकाता, मुंबई, रांची, हैदराबाद समेत अन्य रूटों से पटना आने-जाने वाले विमानों में काफी कम यात्री उड़ान भर रहे हैं। हालांकि दरभंगा एयरपोर्ट से प्रतिदिन 12 से 14 फ्लाइट ही उड़ान भरती है, वहीं पटना एयरपोर्ट से विमानों की अधिक संख्या होने के बावजूद यात्री नहीं मिल रहे हैं।


एनएच किनारे एयरपोर्ट होने से आवागमन सुगम



दरभंगा एयरपोर्ट से हवाई उड़ान शुरू होने के बाद आज देश के कई शहरों के लिए लोगों को सीधी विमान सेवा उपलब्ध हो गई है। आज दरभंगा से विमान सेवा का लाभ मिथिलांचल के साथ-साथ कोसी क्षेत्र एवं सीमांचल की बड़ी आबादी भी उठा रही है। दरभंगा एयरपोर्ट से हवाई सफर करने के पीछे सबसे अच्छी खबर ये है कि राष्ट्रीय राजमार्ग-57 के किनारे एयरपोर्ट का होना। जहां से मुजफ्फरपुर, मधुबनी, समस्तीपुर, सुपौल, सहरसा, कटिहार, किशनगंज समेत अन्य जिलों के साथ नेपाल के तराई क्षेत्र का भी आवागमन सुगम हो चला है। इसकी वजह से लोग पटना के बजाय दरभंगा एयरपोर्ट को अधिक तरजीह दे रहे हैं।

577 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें