खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा जंक्शन पर पार्सल ब्लास्ट के जरिए उड़ाने की थी साजिश।



दरभंगा जंक्शन पर 17 जून को हुए पार्सल ब्लास्ट मामले को लेकर बड़ी खबर सामने आई है। बताते चलें कि दरभंगा जंक्शन पर पार्सल में ब्लास्ट हुआ था। इसकी जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) कर रही थी। जून में हुए पार्सल ब्लास्ट मामले की जांच में बड़ी खबर निकल कर सामने आई है। दरभंगा रेलवे स्टेशन पर आईईडी ब्लास्ट में पाकिस्तानी स्थित लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी हाफिज इकबाल मुख्य साजिशकर्ता हैं, और उसने ही पूरी घटना की योजना बनाई थी।


मामले की जांच एनआईए के सुपूर्द



राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने दरभंगा जंक्शन पर पार्सल ब्लास्ट मामले में पाकिस्तान स्थित लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों का हाथ था, इसको लेकर खुलासा किया है। इस ब्लास्ट में शामिल पांच लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने चार्जशीट दायर की है। मालूम हो कि 17 जून को सिकंदराबाद-दरभंगा एक्सप्रेस ट्रेन के दरभंगा जंक्शन पर ट्रेन रूकी, जहां पार्सल उतारने के बाद उसमें ब्लास्ट हो गया। गनीमत यह रही कि इसमें किसी की जान-माल को कोई नुक़सान नहीं पहुंची। जहां फिर इस मामले को लेकर दरभंगा पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज किया गया। फिर बाद में इस मामले की जांच के कमान एनआईए को दिया गया।


दरभंगा जंक्शन को उड़ाने की साजिश



राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने जो चार्जशीट दाखिल किया हैं, उसमें जो खुलासा हुआ है वो चौंकाने वाला है। दरभंगा जंक्शन पर पार्सल ब्लास्ट केवल ब्लास्ट नहीं था। बल्कि पूरे दरभंगा जंक्शन को उड़ाने की साजिश रची गई थी। लश्कर के आतंकियों ने ट्रेन में आग लगाने वाले आईईडी और पार्सल में बम लगाकर पूरी ट्रेन को उड़ाने की योजना बनाई गई थी।

780 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें