खोज करे
  • DARBHANGA CITY

उत्तर बिहार का प्रमुख एवं रेलवे के सबसे महत्वपूर्ण दरभंगा जंक्शन से नियमित ट्रेनों का परिचालन नदारद।


उत्तर बिहार का प्रमुख केन्द्र एवं पूर्व मध्य रेलवे को राजस्व देने के मामले में सबसे अव्वल दरभंगा जंक्शन से नियमित ट्रेनों का परिचालन नहीं हो रहा है। बताते चलें कि कोरोना महामारी को लेकर देशभर में ट्रेनों का संचालन ठप्प पड़ गया था। लॉक डाउन के बाद लोगों की जिंदगी धीरे-धीरे पटरी पर आने लगी, तो वहीं सड़कों-गलियों, बाजारों-दफ्तर-स्कूल-कोचिंग भी सामान्य हो चला है। परन्तु अभी तक ट्रेनों का परिचालन सही से नहीं हो पा रहा है, जिससे लोगों को काफी समस्या आ रही है। पैसेंजर ट्रेन को नियमित करने को लेकर रेलवे की तरफ से कोई सूचना नहीं दी जा रही है, इससे दैनिक यात्रियों में चिंता और बढ़ी हुई है।


इक्का-दुक्का सवारी गाड़ी का ही परिचालन


मालूम हो कि रेलवे को सबसे अधिक आमदनी दरभंगा जंक्शन से प्राप्त होती है। दरभंगा से सीतामढ़ी, जयनगर, झंझारपुर, सकरी-हरनगर और समस्तीपुर रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन होता है। लंबी दूरी के लिए चलने वाली ट्रेन को स्पेशल ट्रेन बनाकर चलाया जा रहा है। लेकिन नियमित ट्रेन के रूप में एक भी ट्रेन नहीं चल रही है। हालांकि समस्तीपुर रेल मंडल से इक्का-दुक्का सवारी ट्रेन चलने के बावजूद इसका लाभ यात्रियों को नहीं मिल पा रहा है।


रद्द पैसेंजर ट्रेनों को बंद होने की आशंका गहराई


पैसेंजर ट्रेनों को चलाने की मांग यात्रियों ने उठानी शुरू कर दी है। बता दें कि समस्तीपुर, झंझारपुर, जयनगर, सीतामढ़ी, हरिनगर रेलखंड पर एक जोड़ी सवारी ट्रेनों का परिचालन हो रहा है, लेकिन समय-सारिणी की वजह से कामकाजी यात्रियों को इसका लाभ नहीं मिल रहा है। रोजाना आवागमन करने वाले यात्री रेलवे को ट्विटर पर अपनी समस्याओं से अवगत भी करा रहे हैं। वहीं इसी बीच यह भी आशंका जताई जा रही है कि रेलवे द्वारा पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन बंद कराया जा सकता है।

565 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें