खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा में जेवरात लूटकांड मामले में अभी भी पुलिस की हिरासत से बाहर मास्टरमाइंड।


दरभंगा के सबसे बड़े जेवरात लूटकांड मामले में पुलिस को कोई बड़ी सफलता नहीं मिली है। बता दें कि इस रूट का मास्टरमाइंड अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। मालूम हो कि दरभंगा के बड़ा बाजार में स्थित अलंकार ज्वेलर्स में दिनदहाड़े करीब दर्जन भर की संख्या में आये अपराधियों ने 5करोड़ के जेवर लूट लिए, साथ ही लाखों नगदी रूपए लेकर भी चलते बने।


वहीं इस घटना की पूरी प्लानिंग दरभंगा के रहने वाले ज्वेलरी कारीगर कन्हैया साह का था। जो लगभग एक साल पहले तक लहेरियासराय के बाकरगंज के एक ज्वेलरी शॉप पर काम करता था। उसी दौरान उसका आना-जाना अलंकार ज्वेलर्स में हुआ। जहां ज्यादा गहने देख उसके मन में लालच समा गया, और उसने लूटने की योजना बना डाली। इस लूट में उसने अलंकार ज्वेलर्स के स्टाफ को भी शामिल कर लिया, तथा अन्य साथियों को लेकर इस संदर्भ में मीटिंग कराई गई।


बताते चलें कि इस घटना को अंजाम देने के वास्ते कन्हैया ने पहले दुकान, बाजार और रास्तों की रेकी करवाता रहा। उसके बाद ये सभी अपराधी 8दिसंबर को मदारपुर के एक लॉज में रात भर रूककर, वहीं से दूकान और बाजार की रेकी करते रहे। जहां फिर सभी अगली सुबह हाइवे की तरफ नाश्ता कर घटनास्थल पर लूट को अंजाम देने पहुंचे। ये लोग पुलिस की सारी गतिविधियाें पर भी नजर रखे हुए थे, इसी बीच दूसरे जिले से आए अपराधियों ने दूकान लूटकर अलग-अलग रास्तों से भाग निकले।


बता दें कि इस लूटकांड में पुलिस ने कई अपराधियों को गिरफ्तार किया है। और उनके आकाओं तक पहुंचने की सघन जांच जारी है। लूटे गए सोने का पता लगाने के लिए कई टीम लगातार छापेमारी कर रही है। एसएसपी के अनुसार जल्द ही लूटा गया सोना की बरामदगी और अपराधियों को पकड़ने की उम्मीद जताई है।

817 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें