खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा तारामंडल निर्माण कार्य में आई तेजी, बिहार में दूसरा तारामंडल का सपना जल्द होगा साकार।


मिथिलांचल के लोग जल्द ही अंतरिक्ष की हर छोटी-बड़ी बारिकियों से परिचित होंगे। बताते चलें कि इसको लेकर दरभंगा में बन रहे तारामंडल के निर्माण कार्य तेज हो गया है। कोरोना महामारी की वजह से तारामंडल का कार्य रूका पड़ा था। जिसकी वजह से यह छः महीने लेट हो गया है। तारामंडल का निर्माण कार्य जून 2021 तक पूरा किया जाना था। परन्तु देरी के कारण अब यह दिसंबर 2021तक पूरा हो जाएगा।


उत्तर बिहार और मिथिलांचल के लिए बड़ी उपलब्धि


मालूम हो कि दरभंगा में तारामंडल का निर्माण उत्तर बिहार और मिथिलांचल के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। राजधानी पटना के बाद दरभंगा के पॉलीटेक्निक कॉलेज परिसर में बिहार का दूसरा तारामंडल जल्द ही अपना आकार लेने लगा है। बता दें कि तारामंडल का निर्माण बिहार सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा कराया जा रहा है।


तारामंडल दिसंबर 2021 तक हो जाएगी तैयार


जिसे करीब 64 करोड़ रुपए की लागत से दो चरण में इसका काम किया जाएगा। पहले चरण के तहत 73 करोड़ 73 लाख 60 हजार की लागत से तारामंडल सह विज्ञान संग्रहालय का निर्माण हो रहा है। पिछले डेढ़ साल से इसपर काम चल रहा है। दरभंगा का तारामंडल मिथिलांचल के लिए बड़ी सौगात है, खासकर विज्ञान में रुचि रखने वाले लोगों के लिए और महत्वपूर्ण है।


तारामंडल में एकसाथ 300 लोगों के बैठने की क्षमता


बिहार का दूसरा तारामंडल जो दरभंगा में बन रहा है, इसमें 300 लोगों का एकसाथ बैठकर शो देखने की क्षमता होगी। जिसमें विज्ञान संग्रहालय, आॅडिटोरियम और विज्ञान की गतिविधियों एवं शोध के लिए अलग से बिल्डिंग और हॉल बनाया जाना है। तारामंडल को लेकर मिथिलांचल के लोग काफी उत्साहित हैं, और इसे धरातल पर जल्द ही पूरा होने की आस लगाए हैं। दरभंगा एयरपोर्ट चालू होते ही लोगों द्वारा एम्स के निर्माण की उम्मीद तेज हो गई है।

3488 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें