खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दुर्गापूजा के मौके पर मेला एवं रावणवध का आयोजन नहीं, दरभंगा डीएम ने जारी किया दिशा-निर्देश।


दुर्गापूजा का त्योहार नजदीक हैं, वहीं दूसरी ओर लोग बेसब्री से मां दुर्गा के आने का इंतजार कर रहे हैं। मां दुर्गा के आगमन के साथ ही पूरा वातावरण भक्तिमय हो उठता है। चहूंओर मां के जयकारे एवं उद्घोष से एक अलग ही भक्तिमय माहौल का नजारा देखने को मिलता है। परन्तु कोरोना संक्रमण को अभी भी अनदेखा नहीं किया जा सकता है। इसको लेकर दरभंगा जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एवं एसएसपी बाबूराम की संयुक्त अध्यक्षता में शहर के दुर्गापूजा समितियों के पदाधिकारियों के साथ बैठक की गई।


किसी भी आयोजन के लिए अनुज्ञप्ति जरूरी



डीएम ने कोविड-19 के सुरक्षा एवं बचाव को लेकर सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देश के अनुसार दुर्गापूजा में किसी भी कार्यक्रम के लिए अलग-अलग अनुज्ञप्ति लेनी होगी। पंडाल निर्माण, लाउडस्पीकर बजाने समेत किसी भी अन्य तरह की आयोजन के लिए अलग से अनुज्ञप्ति लेनी पड़ेगी। साथ ही सरकार द्वारा जारी कोविड-19 के सभी प्रोटोकॉल का अनुपालन पूजा समितियों को करना होगा। पंडाल में सभी को मास्क में रहना हैं, साथ ही सामाजिक दूरी एवं हैंड सैनिटाइजर रखना जरूरी है।


सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देश के पालन की जिम्मेदारी पुजा समितियों की



पूजा समितियों को किसी भी परिस्थिति में निर्धारित संख्या से अधिक भीड़ जमा नहीं होने देना हैं। वहीं दुर्गापूजा में रावण वध एवं मेला का आयोजन नहीं करना हैं। साथ ही पंडाल में रहने वाले सभी स्वयंसेवकों का टीकाकरण करा दिया जाए। रात 10 बजे के बाद लाउडस्पीकर नहीं बजाया जाएगा। सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को पालन कराने की जिम्मेदारी पुजा समितियों की होगी।

819 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें