खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा का युवक धराया पटना जंक्शन पर, जुर्म-नकली पुलिस बनकर ठगी का मामला।


कहते हैं कि जब पैसे कमाने की लालसा मन में जगती है तो इंसान गलत तरीके से काम करने में भी गुरेज नहीं करता। कुछ ऐसा ही किया है दरभंगा के युवक ने। पूरी कहानी विस्तार से बताते चलें कि पटना जंक्शन पर फर्जी रेलवे पुलिस बनकर यात्रियों से ठगी कर रहा दरभंगा का युवक शुक्रवार को धरा गया। जहां अपने को रेल पुलिस बताकर एक यात्री के पास उसी के मोबाइल को चोरी का बताकर दो हजार रूपए ऐंठने की कोशिश कर रहा था। यात्री मोबाइल थाना में ही जमा करने पर अड़ा था। काफी देर बहस और तू-तू-मैं-मैं देखकर रेलवे के जवान वहां पहुंचे। जब रेल के जवान वहां पहुंचे तो फर्जी पुलिस बना युवक भागने लगा। जिसे रेल पुलिस ने यात्रियों की मदद से उसे धर दबोच लिया।


बिहार के कई रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को बनाता था शिकार



पूछताछ में युवक ने जो कहानी बताई, उससे रेलवे पुलिस भी भौंचक रह गई। गिरफ्तार हुआ युवक दरभंगा जिले के बहादुरपुर थाना के डीह छपरा का रहने वाला विपिन पासवान हैं। युवक के पिता बिहार पुलिस में सुबेदार के पोस्ट पर कर्यरत थे, जो रिटायर हो चुके हैं। विपिन पासवान पटना जंक्शन ही नहीं बल्कि राजेंद्रनगर, दानापुर, पाटलिपुत्र, हाजीपुर समेत बिहार के कई रेलवे स्टेशनों पर सिपाही की वर्दी पहनकर भोले-भाले यात्रियों के सामान को चोरी का बताकर ठगी करता था।


सिपाही के साथ-साथ टीटीई बनकर भी करता था ठगी



विपिन पासवान सिपाही ही नहीं टीटीई बनकर भी ठगी करता था। युवक के पास से पुलिस की लाठी, चोरी के कई मोबाइल, सिमकार्ड और रूपए बरामद किए गए हैं। पुछताछ के साथ युवक को जेल भेज दिया गया है। वहीं रेलवे स्टेशन पर फर्जी पुलिस बनकर ठगी करने का मामला उजागर होने के बाद आरपीएफ और जीआरपी अधिक सतर्क हो गई है।

558 व्यूज0 टिप्पणियाँ