खोज करे
  • DARBHANGA CITY

एम्स और एयरपोर्ट को लेकर दरभंगा की जनता का एनडीए को रिटर्न तोहफा, सरकार की वापसी में अहम भूमिका।

बिहार के चुनाव परिणाम ने कई उठापटक के बाद आखिरकार एक बार फिर नीतीश सरकार सत्ता में वापसी करने जा रही हैं। बहुत करीब के इस महामुकाबले में NDA की वापसी में दरभंगा प्रमंडल की प्रमुख भूमिका मानी जा रही हैं, जहाँ मिली सीटों ने एनडीए की सत्ता की राहे आसान की। Darbhanga प्रमंडल के दरभंगा जिले की बात करे तो यहां की 10 मे से 09 सीटें सत्ताधारी गठबंधन के पक्ष में गयी, वही दरभंगा ग्रामीण का मुकाबला भी बहुत दिलचस्प रहा। दरभंगा ज़िले से क्लीन स्वीप करती सत्ताधारी गठबंधन, दरभंगा ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में करीबी अंतर से हारी। यहां गठबंधन से अलग हुई लोजपा ने एनडीए के दरभंगा जिले से क्लीन स्वीप की संभावनाओं पर सेंधमारी कर डाली।


मधुबनी में 08 सीटों पर मिली विजय


Madhubani से भी सत्ताधारी गठबंधन को 10 मे 08 सीटों पर जीत मिली, वही समस्तीपुर में NDA के पक्ष में मामला बराबरी का रहा। कुल मिला कर कहा जा रहा है कि नीतीश की सत्ता में वापसी का रास्ता दरभंगा प्रमंडल में मिली बम्पर सीटों से ही खुला हैं।


मिथिलांचल में दो बड़ी परियोजना बनी जीत का कारण


दरभंगा प्रमंडल की कुल सीटों में से 22 सीटो पर एनडीए को जीत मिली, जो बहुत अहम रहा।इस बम्पर जीत के पीछे दो बड़ी परियोजना को जीत का प्रमुख कारण माना जा रहा है। बताते चलें कि हाल में ही Darbhanga को Aiims का तोहफा मिला है, जिसे 1264 करोड़ की लागत से 750 बेड का एम्स अस्पताल बनाया जाना है।


बीजेपी का गेम चेंजर बना एयरपोर्ट



वहीं दूसरी ओर Darbhanga Airport को भी गेम चेंजर माना जा रहा है। बताते चलें कि उड़ान योजना के तहत दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु के लिए 08 नवंबर से हवाई सेवा शुरू की गई है। जिसका जिक्र दरभंगा में चुनावी सभा के दौरान भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया। पीएम ने दरभंगा में इन परियोजनाओं को उत्तर बिहार के लिए गेम चेंजर बताया। जिसके बाद रिटर्न गिफ़्ट में जनता ने भी सत्ता में बीजेपी की वापसी सुनिश्चित कर दरभंगा प्रमंडल से सत्ताधारी दल की सत्ता का राहे आसान की।

1485 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें