खोज करे
  • DARBHANGA CITY

आईपीएस एवं सिंघम शिवदीप लांडे को बिहार वापसी के साथ ही मिली DIG की जिम्मेदारी।


आईपीएस शिवदीप लांडे की बिहार वापसी के साथ ही बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई है। तत्काल प्रभाव से डीआईजी प्रशासन के पद पर बने रहेंगे, जब तक राज्य सरकार इनका पदस्थापन नहीं करती है। बता दें कि पांच साल बाद आईपीएस शिवदीप लांडे महाराष्ट्र से बिहार में अपनी सेवा देने लौटे हैं। 2006 बैच के आईपीएस शिवदीप लांडे अपनी कार्यशैली के लिए मशहूर है। बालू माफिया को धूल चटाई हैं, वहीं बदमाशों को छक्के छुड़ाने में उन्हें महारत हासिल है। उनको यूं ही सिंघम का नाम नहीं दिया गया है।


एयरलाइंस का बिहारियों के प्रति ढ़ीला-ढ़ाला रवैया


बिहार में उनकी वापसी से लोगों में अपार हर्ष हैं। बता दें कि उनके आने की चर्चा बिहार में पहले से ही होने लगी थी। इसी सिलसिले में वे मंगलवार को पटना पहुंचे। मुंबई में अपनी सेवा देने के बाद बिहार के लिए मुंबई से उन्होंने फ्लाइट ली। लेकिन फ्लाइट की देर से उड़ान भरने पर वो भड़क गए और एयरलाइंस प्रबंधन की क्लास लगा दी। विस्तार से जानकारी देते चले कि स्पाइसजेट की फ्लाइट जो मुंबई से पटना के लिए रवाना होने वाली थी, उसमें आईपीएस शिवदीप लांडे समेत अन्य यात्रियों को समय से पहले ही बैठा दिया गया। पर जब निर्धारित समय पर फ्लाइट ने उड़ान नहीं भरी और यात्रियों को एसएमएस के माध्यम से सूचना मिली की फ्लाइट एक घंटा बाद उड़ान भरेगी, आईपीएस शिवदीप लांडे भड़क गए।


सोशल मीडिया पर लिखा पोस्ट



इसको लेकर उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से एयरलाइंस प्रबंधन के ढीले-ढाले रवैए पर सवाल उठाया। जहां उन्होंने बिहारियों के प्रति इस तरह का रवैया उन्हें पसंद नहीं आया। बल्कि उन्होंने लिखा कि इतने बिहारी यात्रियों को यूं एक डिब्बे में बंद कैसे किया जा सकता है। कुछ बिहारियों ने इसको लेकर आवाज उठाई तब जाकर एयरलाइंस स्पाइसजेट प्रबंधन को पटना के लिए उड़ान भरनी पड़ी।

743 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें