खोज करे
  • DARBHANGA CITY

4 घंटे की छूट में बेहताशा भीड़, संक्रमण की रफ्तार बढ़ सकती हैं चार गुना।


बिहार में 10 दिनों की लॉकडाउन 15 मई तक लगी है। वहीं लॉकडाउन में सुबह 7 बजे से 11 बजे तक जरूरत की सभी चीजें खरीदने के लिए लोगों को छूट मिली है। चार घंटे की छूट में सड़कों पर जिस तरह भीड़ उमड़ती है, वो आम दिनों से काफी ज्यादा होती है। बता दें कि इससे संक्रमण चार गुना तेजी से लोगों में फैल सकती है।


चार घंटे की छूट में हो पुलिस मुस्तैद


बताते चलें कि जिस तरह सड़कों पर लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है, प्रशासन को इसे कंट्रोल करने की आवश्यकता है। लॉकडाउन से अधिक इस चार घंटे की छूट में संक्रमण की चेन टूटेगी नहीं, बल्कि पहले से ज्यादा लोगों को अपनी गिरफ्त में लेगी। 7 से 11 बजे की अवधि में प्रशासन भीड़भाड़ वाले इलाकों में पुलिस बल की तैनाती करें, जिससे बेवजह घर से निकलने वालों पर लगाम लग सके।


जागरूकता से ही संक्रमण रोकने में मदद


बिहार में प्रतिदिन 15 हजार के करीब कोरोना के नये मामले सामने आ रहे हैं। लॉकडाउन के बावजूद इसमें कमी नहीं आई है। अस्पताल में गंभीर मरीजों को इलाज के लिए ऑक्सीजन बेड नहीं मिल रहा है। ऑक्सीजन के अभाव में लोग दम तोड़ रहे हैं। फिर भी लोग बाहर निकलने से परहेज़ नहीं कर रहे हैं। इसका खामियाजा दूसरे लोगों को भी भुगतना पड़ता है। गली-मुहल्लें में लोग बिना मास्क लगाएं ही एक जगह इकट्ठे रहते हैं। संक्रमण को रोकने के लिए जागरूक होने की जरूरत है।

561 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें