खोज करे
  • DARBHANGA CITY

बिहार में कोरोना गंभीर स्थिति में। नाईट कर्फ्यू-लॉकडाउन की आहट।


बिहार में बढ़ते कोरोना संक्रमण ने गंभीर हालात पैदा कर दिए हैं। बताते चलें कि जिस तरह प्रतिदिन कोरोना मरीजों की रफ्तार बढ़ रही है और मृत्यु दर में भी इजाफा हो रहा है, उससे कोरोना की भयावह स्थिति का आकलन लगाया जा सकता है। कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। बता दें कि गुरुवार को बिहार में सबसे अधिक 6133 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं, जो आंकड़ों के अनुसार रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं।


दूसरी लहर तेजी से लोगों को ले रही गिरफ्त में


बता दें कि जिस तरह बिहार में कोरोना से हालात बिगड़ते जा रहे हैं, उसे लेकर शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। वहीं इसके साथ ही सीएम ने बिहार में संक्रमण को लेकर सख्ती बरते जाने का संकेत दिया है। हालांकि अभी तक यह साफ़ नहीं हुआ है कि पाबंदियां किस तरह होगी, इसका निर्णय 17 अप्रैल को मीटिंग में होने की संभावना है। कोरोना की दूसरी लहर कितनी खतरनाक रूप से बढ़ रही है, इससे बिहार में नाइट कर्फ्यू या लॉकडाउन लगने की आहट भी सुनाई देने लगी है।


पटना में स्थिति और गंभीर


बता दें कि सीएम ने स्कूल-कॉलेज, कोचिंग संस्थानों को 18 अप्रैल तक बंद रखने का आदेश दिया है। जिस तरह संक्रमण के चेन में इजाफा हो रहा है, उससे तो आगे भी बंद रखने का निर्देश दिया जा सकता है। कोरोना को लेकर लोगों की लापरवाही भी सामने आ रही है। 17 अप्रैल को होने वाली सर्वदलीय बैठक पर लोगों की निगाहें टिकी हैं। बिगड़ते हालात के मद्देनजर बिहार में बंदी की आशंका गहरा गई है। राजधानी पटना में कोरोना का कहर काफी बढ़ गया है, शमशान घाट में अंतिम संस्कार के लिए लंबी लाइनें लगी है।

1293 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें