खोज करे
  • DARBHANGA CITY

दरभंगा में एम्स निर्माण के लिए MSU ने भरी हूंकार।



बिहार का दूसरा एम्स दरभंगा में स्थापित करने को लेकर मिथिला स्टूडेंट यूनियन ने हुंकार भर दी है। बताते चलें कि दरभंगा में एम्स की कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद भी इसके निर्माण के लिए अब तक कोई ठोस प्रकिया नहीं की जा रही थी, जिससे आक्रोशित होकर मिथिला स्टूडेंट यूनियन ने विरोध जताना शुरू कर दिया है। 01 अगस्त से दरभंगा एम्स के शिलान्यास के लिए ईंट इकट्ठा करने का अभियान चलाया जा रहा है। एमएसयू की इस मुहिम को सोशल मीडिया के माध्यम से जोर-शोर से शेयर किया जा रहा है।



मालूम हो कि दरभंगा में एम्स निर्माण की घोषणा के इतने दिनों बाद भी अब तक 1 ईंट नहीं गिराया जा सका है। बिहार विधानसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार द्वारा दरभंगा में एम्स स्थापित किए जाने की घोषणा की गई थी। दरभंगा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल परिसर में 200 एकड़ जमीन एम्स के लिए चिन्हित होने के बाद भी लो-लैंड की जमीन को समतल करने के लिए मिट्टी भराई की राशि काफी लंबे इंतजार के बाद बिहार सरकार ने एम्स निर्माण कार्य शुरू करने की प्रक्रिया में मिट्टीकरण के लिए 13 लाख 23 लाख और 42 हजार रुपए की स्वीकृति दी है। मगर फिर भी निर्माण प्रक्रिया में आ रही विलंब को लेकर मिथिला स्टूडेंट यूनियन ने विरोध प्रदर्शन का अनोखा रास्ता अपनाया है।



मिथिला स्टूडेंट यूनियन ने दरभंगा एम्स की शिलान्यास के लिए ईंट इकट्ठा करने के लिए, घर-घर से ईंट लाएंगे, दरभंगा एम्स बनायेंगे का नारा लगा रहे हैं। एमएसयू ने अब यह तय किया है कि जनता खुद दरभंगा एम्स का शिलान्यास करेंगी। इसके लिए एमएसयू की टीम अगले 37 दिनों तक गांव-गांव एवं घर से एम्स के लिए ईंट इकट्ठा करेगी। जहां करीब पांच सप्ताह बाद दरभंगा में हजारों लोगों की मौजूदगी में एम्स के लिए प्रस्तावित स्थल पर उन ईंटों से शिलान्यास किया जाएगा।

2898 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें