खोज करे
  • DARBHANGA CITY

पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर जीतनराम मांझी ने की आलोचना, बताया मानवता धर्म के लिए खतरनाक।

अपडेट किया गया: मई 23


जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व सांसद पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर बिहार में सियासी माहौल गर्मा गई है। बता दें कि इसको लेकर आम पब्लिक रोष जता रहे हैं। पप्पू यादव की रिहाई को लेकर भी सोशल मीडिया पर वार छिड़ चुका है। वहीं इस पर पूर्व सीएम जीतनराम मांझी जो इस वक्त बिहार सरकार में शामिल हैं, ने पप्पू यादव की गिरफ्तारी पर सवाल खड़े कर दिए हैं।


पप्पू यादव लगातार थे अस्पतालों के दौरे पर



बताते चलें कि बिहार में कोरोना से हालात काफी बेकाबू हो गई है, वहीं ऐसे में पप्पू यादव लोगों के लिए एक बार फिर मसीहा बनकर उभरे हैं। लगातार लोगों के लिए मददगार साबित हो रहे थे। जहां इस कड़ी में खाना खिलाने से लेकर, अस्पतालों में इलाज के दौरान होने वाली कोताही, बेड की कमी, ऑक्सीजन अभाव को लेकर लगातार भ्रमण कर रहे थे। पप्पू यादव दिन-रात एक कर मानवता धर्म निभा रहे थे।


सरकार में शामिल नेताओं ने उठाए सवाल


पप्पू यादव को पटना पुलिस ने लॉकडाउन उल्लंघन के मामले में गिरफ्तार किया है। वहीं इस पर जीतनराम मांझी ने ट्वीट किया हैं कि पप्पू यादव दिन-रात जनता की सेवा कर मानवता धर्म निभा रहे हैं। और इसको लेकर अगर उन्हें गिरफ्तार किया गया है, तो वो मानवता के लिए खतरनाक है। बिना किसी जांच के कारवाई नहीं होनी चाहिए। वहीं इसपर हम पार्टी के मुख्य प्रवक्ता ने भी सवाल उठाए हैं।


एम्बुलेंस मामले को लेकर लगातार थे चर्चा में


बता दें कि जीतनराम मांझी इस वक्त बिहार सरकार में शामिल हैं। लेकिन पप्पू यादव की गिरफ्तारी को लेकर उन्होंने भी आलोचना की है। मालूम हो कि पप्पू यादव ने पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं बीजेपी सांसद राजीव प्रताप रूडी के घर से दर्जनों एम्बुलेंस मामले को उजागर किया था, जिसके बाद वो लगातार चर्चा में थे। पप्पू यादव की गिरफ्तारी को लेकर पांच थानों की पुलिस टीम उनके पटना स्थित आवास पर पहुंची, जहां गिरफ्तारी के लिए भारी संख्या में पुलिस का इंतजाम देखा गया।

336 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें