खोज करे
  • DARBHANGA CITY

पटना एयरपोर्ट पर हर घंटे होगी 3-4 फ्लाइट की उड़ान संभव।


विमानों की लेट लतीफी से यात्रियों को एयरपोर्ट के टर्मिनल भवन में काफी लंबा समय गुजारना पड़ता है। वहीं दूरदराज के वैसे यात्री जिनकी फ्लाइट रात को होती है, वो दिन में ही पहुंच जाते हैं। इस वजह से यात्रियों की लंबी भीड़ एयरपोर्ट के अंदर और बाहर लग जाती है। फ्लाइट का देरी से उड़ान होने को लेकर पटना के एयरपोर्ट टर्मिनल भवन में भीड़ कम करने और यात्रियों की परेशानी को दूर करने के लिए सात गठित सदस्यीय कमेटी ने इसपर अपनी रिपोर्ट सौंप दी है।


यात्रियों को अधिक देर लाइन में लगने से मिलेगी निजात


वहीं पटना एयरपोर्ट के निदेशक बीसीएच नेगी ने सभी एयरलाइंस को कहा है कि, विमानों के परिचालन की रूपरेखा इस तरह बनाया जाए जहां हर घंटे में 3 से 4 फ्लाइट मौजूद हो। सात सदस्यीय कमेटी ने विमानन सुरक्षा ब्यूरो के निर्देश पर यह रिपोर्ट बनाई है, जिसमें कहा गया है कि हर घंटे कम से कम 3-4 विमानों का परिचालन होना चाहिए। विशेष रूप से सुबह और शाम में यात्रियों की भीड़ एयरपोर्ट पर ना लगे। वहीं ऐसा होने के बाद यात्रियों को चेक इन एरिया एवं सिक्योरिटी होल्ड में ज्यादा देर तक लाइन में नहीं खड़ा होना पड़ेगा।


15 जनवरी के बाद बढ़ेगी विमानों की संख्या


ठंड और कोहरे की वजह से अभी सुबह और शाम में प्रत्येक घंटे विमानों की संख्या 5-6 हैं। घने कोहरे को लेकर पहली फ्लाइट सुबह 9 बजे के बाद ही आ पाती है। विंटर शेड्यूल में इस समय कुल 40 विमानों का परिचालन हो रहा है, जबकि पिछले साल 28 विमान विंटर शेड्यूल में थे। 15 जनवरी के बाद पटना एयरपोर्ट से फ्लाइटों की संख्या बढ़ेगी। एयरपोर्ट निदेशक के अनुसार 15 से 20 मिनट के अंतराल के बाद विमानों के आॅपरेशन की व्यवस्था होनी चाहिए।

596 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें