खोज करे
  • DARBHANGA CITY

इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह की बेटी ने आरोपी को मां के हाथों गोली मारने की भरी दहाड़।


राजधानी पटना में जिस तरह दिनदहाड़े इंडिगो एयरलाइंस के मैनेजर की अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी, उससे बिहार में भूचाल मच गया है। अपराधियों की धरपकड़ को लेकर पुलिस ने जी-जान लगा दी है। परन्तु अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। बता दें कि रूपेश सिंह का शवादाह उनके पैतृक गांव में किया गया है। इसी क्रम में रूपेश के परिजनों को सांत्वना देने सुशील मोदी उनके पैतृक गांव संवरी बक्शीजी पहुंचे थे। जहां इंडिगो मैनेजर रूपेश सिंह की बेटी ने आराध्या ने सुशील मोदी से भावुक होकर ये कहा कि, अंकल....पापा को मारने वाले पकड़े गए तो उसको पहली गोली मेरी मम्मी मारेगी।


सुशील मोदी ने भावुक होकर बच्ची को लगाया गले


8 साल की भोली आराध्या ने जिस तरह ये बात कही, सुशील मोदी ने भावुक होकर रूपेश की बेटी को गले से लगा लिया। वहीं सुशील मोदी से रूपेश की बेटी आराध्या ने कहा कि मम्मी को देखकर मैं रो नहीं रही हूं बल्कि मां इस बात पर रो रही है कि पापा हमेशा लोगों की मदद करते थे फिर भी उन्हें गोली मार दी गई। मुझे और मेरे भाई और मम्मी को अनाथ कर दिया। बच्ची के इस बयान पर सुशील मोदी भी भावुक हो गए और उन्होंने उसे गले लगा लिया। सुशील मोदी ने इस मामले को लेकर बताया कि तेजी से जांच चल रही है और जल्द ही हत्यारे पुलिस की गिरफ्त में होंगे। उन्होंने रूपेश के पिता शिवजी को भी ढांढस बंधाया। उन्होंने कहा कि जल्द सजा दिलाने के लिए स्पीडी ट्रायल चलाया जाएगा।


बिलख-बिलखकर रोयी पत्नी


सुशील मोदी से इस मुलाकात पर रूपेश की पत्नी नीतू बिलख-बिलखकर रोने लगीं। और बोलने लगीं कि अइसन चेहरा लेके कइसे जीयम हो। उन्होंने कहा कि बेटी पटना के नाट्रेडम एकेडमी और बेटा रेडिएंट पब्लिक स्कूल में पढ़ते हैं। दोनों बेटे-बेटियों की पढ़ाई इसी स्कूल में हो। रूपेश के भाई नंदेश्वर सिंह और दिनेश कुमार सिंह ने मोदी से कहा कि हमें न्याय दिलाया जाए। पत्नी और बच्चों के भविष्य के लिए नौकरी की गारंटी दी जाए, जिससे उनका भविष्य आसान हो सके। नंदेश्वर सिंह ने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है।

922 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें