खोज करे
  • DARBHANGA CITY

उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी निकले रोड शो के लिए, कोरोना को लेकर बड़ी लापरवाही आई सामने।


बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर नेताओं ने कोरोना को ताक पर रखकर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रहे हैं। बताते चलें कि उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी कोरोना संक्रमण से ग्रस्त थे, जिसके बाद एम्स से डिस्चार्ज होने के तीन दिन बाद ही रोड शो के लिए बाहर निकल गये। मालूम हो कि रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी एक सप्ताह तक होम क्वारेंटाइन रहना पड़ता है।


कोरोना काल में बड़ी लापरवाही


बताते चलें कि IMCR की गाइडलाइंस के मुताबिक सुशील कुमार मोदी जी को 3 नवंबर तक क्वारंटाइन रहना था। आज सीतामढ़ी, मधुबनी में रोड शो में जिस गाड़ी पर वो खड़े हैं, और उनके आसपास खड़े कार्यकर्ता भी मास्क को नाक से ऊपर किया हुआ है। उससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि, अगर नेता लोग ही इस तरह की लापरवाही बरतेंगे, तो फिर आम पब्लिक पर इसका क्या असर पड़ेगा। उपमुख्यमंत्री ने ये फोटो अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है, जिसमें काफी भीड़ जुटी हुई है। और लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन ना के बराबर कर रहे हैं।


जिम्मेदार नागरिक होने के बावजूद भी नियमों का उल्लघंन


ICMR(भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद) की रिवाइज गाइडलाइन में साफ कहा गया है कि एसिंप्टोमैटिक मरीज को सात दिन तक होम क्वारंटाइन का पालन करना है। जिसके अनुसार- ऐसे मरीज जो एसिंप्टोमैटिक हैं, जिन्हें तीन दिनों तक बुखार नहीं आ रहा है और उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत नहीं है तो अस्पताल से छुट्टी दी जा सकती है। बावजूद इसके ऐसे मरीजों को किसी के भी संपर्क में नहीं आना है और सात दिन तक होम क्वारंटाइन में रहना है। परन्तु फिर भी एक जिम्मेदार नागरिक के तौर पर उपमुख्यमंत्री का रोड शो में शरीक होना अन्य व्यक्तियों की जान-जोखिम में डालने जैसा है।

151 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें

DEDICATED FOR DARBHANGA 

1.32 Million Viewes 

WEEKLY NEWSLETTER 

© 2020 BY DARBHANGA CITY. PROUDLY CREATED WITH NET8.IN