खोज करे
  • DARBHANGA CITY

बिहार आने-जाने वालों की बढ़ी परेशानी, ट्रेन में नो रूम वहीं हवाई किराए ने छुआ आसमान।



त्योहारी सीजन शुरू होते ही लोगों का घर आना-जाना शुरू हो गया है। दीपावली एवं छठ पूजा को लेकर महानगरों में रहने वाले लोग बिहार लौटने लगे हैं। छठ महापर्व बिहार का खास पर्व हैं, जिसमें लोग सम्मिलित होने के लिए लोग परदेस से अपने घर पहुंचते हैं। ऐसे में बिहार में बाहर से आने वाले लोगों की संख्या बहुत अधिक होती है। इसमें दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद, पुणे, पंजाब, अमृतसर समेत अन्य महानगरों में दीवाली और छठ में आने वाले की संख्या बढ़ गई है।


अधिक पैसे चुकाने की मजबूरी




भीड़ बढ़ने के साथ ही ट्रेनों में लंबी वेटिंग और नो रूम की समस्या बढ़ने लगी है। लिहाजा लोग हवाई यात्रा को अधिक तरजीह देने लगे हैं। लेकिन हवाई सफर भी करना अब उनके लिए आसान नहीं हो रहा है। कारण बताते चलें कि हवाई यात्रा के लिए टिकट के मूल किराए से अधिक पैसे चुकाने पड़ रहे हैं। जिसमें दिल्ली, कोलकाता, मुंबई, बेंगलुरु-पुणे समेत देश के अन्य शहरों से लौटने वाले लोगों को 2 हजार से लेकर 25 सौं अधिक रूपए चुकाने पड़ रहे हैं।


बढ़ते किराए को लेकर आम-आदमी त्रस्त



बता दें कि ज्यों-ज्यों दीपावली एवं छठ की तिथि नजदीक आ रही है, वैसे ही किराए में बढ़ोतरी होती जा रही है। विमानन कंपनियां भी भीड़ देखकर किराये में फेर-बदल कर देती है। इसको लेकर आम-आदमी की समस्या बढ़ जाती है। परेशानी के आलम में ना तो उनके पास आने-जाने का कोई विकल्प उपलब्ध नहीं हो पाता है।

149 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें