खोज करे
  • DARBHANGA CITY

बिहार में मंदिर-मस्जिद खुलने के बढ़े आसार।



बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले में कमी होने के साथ ही सरकार अब अनलॉक-5 में और भी छूट देने पर विचार कर रही है। इसको लेकर आगामी कुछ दिनों में आपदा प्रबंधन समूह महत्वपूर्ण निर्णय ले सकता है। बता दें कि मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलों के डीएम के साथ अनलॉक को लेकर विचार-विमर्श किया गया, जिसमें अनलॉक-5 में क्या-क्या छूट संभव है इसपर राय ली गई। बिहार में मंदिर-मस्जिद खोले जायेंगे या फिलहाल बंद रहेगा इसका फैसला 3-4 अगस्त को आपदा प्रबंधन समूह के द्वारा बुलाई गई बैठक में लिया जाएगा।


मुख्य सचिव को कराया गया मौजूदा स्थिति से अवगत



बताते चले कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान जिला अधिकारियों ने मुख्य सचिव को अपने जिले में कोरोना की मौजूदा स्थिति के बारे में विस्तार से अवगत कराया। जहां कुछ जिलाधिकारियों के अनुसार जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले में लगातार कमी देखी जा रही है। वहीं कोरोना टेस्ट की संख्या बढ़ाई जा रही है। उसके साथ ही ज्यादा से ज्यादा लोगों के वैक्सीनेशन की कोशिश भी हरसंभव की जा रही है।


सरकार पर टिकी निगाहें



जिलाधिकारियों ने मुख्य सचिव को यह भी सलाह दी कि कोरोना के मामलों में कमी आने के बाद स्वास्थ्य विभाग के साथ आंकलन किया जाए। और उसके बाद फिर मंदिर-मस्जिदों और मॉल खोलने पर विचार किया जाए। वहीं कुछ डीएम ने यह भी सुझाव दिया कि सावन के महीने में मंदिरों में काफी भीड़ होती है, और मुहर्रम भी नजदीक आने वाली है। लिहाजा सरकार को अंतिम निर्णय लेने से पहले गहण मंथन कर लेनी चाहिए, जिससे संक्रमण के मामले बढ़ ना पाएं। अब देखना यह है कि अनलॉक-5 में सरकार क्या निर्णय लेती है।

299 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें