खोज करे
  • DARBHANGA CITY

साल की शुरूआत हुई हादसों से, वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ मचने से दर्जनों श्रद्धालुओं की मौत।


नये साल का जोर-शोर से लोग हर्ष-उल्लास से स्वागत कर रहे हैं। वहीं साल के पहले ही दिन दुखद खबर से शुरूआत हो गई। जी हां बताते चलें कि जम्मू-कश्मीर वैष्णो देवी मंदिर में कल देर रात भगदड़ मच गई। जहां श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जमा थी। इस भगदड़ में करीब दर्जन भर से ऊपर व्यक्ति की मौत हो गई, वहीं इसमें 20 से भी ऊपर लोग घायल हो गए। यह घटना वैष्णो देवी मंदिर के गर्भगृह के बाहर गेट नंबर-3 के पास हुई। मां वैष्णो देवी का मंदिर जम्मू से 50 किलोमीटर दूर त्रिकुटा पर्वत पर स्थित है।


श्रद्धालुओं की मौत से शोकाकुल देश



नये साल को लेकर एक तरफ जहां हर्षोल्लास से मनाया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ वैष्णो देवी मंदिर में इतने श्रद्धालुओं की मौत ने सबको झकझोर दिया है। वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ मचने की जो जानकारी मिली है, वो ये है कि श्रद्धालुओं में किसी बात को लेकर बहस हो गई और यह बढ़ती चली गई। मंदिर परिसर में सुरक्षा का व्यापक इंतजाम ना होने की वजह से काफी संख्या में लोग इकट्ठे हो गए, जिसके बाद निकलने का कोई विकल्प ही नहीं था।


पीएम मोदी ने व्यक्त की संवेदना



इस घटना को लेकर केंद्र सरकार ने मुआवजे का ऐलान किया है। हालांकि इस हादसे के बाद भी वैष्णो देवी यात्रा पर कोई असर नहीं पड़ा है। भगदड़ में हुई हादसे में जान गंवाएं मृतकों के परिजन को केंद्र ने 2-2 लाख रूपए और घायलों को 50-50 हजार रूपए मुआवजा देने की घोषणा की है। वहीं जम्मू-कश्मीर के उप-राज्यपाल ने मृतकों के परिजन को 10-10 लाख रूपए और घायलों को 2-2 लाख रूपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है। पीएम मोदी ने संवेदना व्यक्त की हैं। पीएम मोदी के साथ तमाम राजनीतिज्ञ गणमान्य इस घटना पर नजर बनाए हुए हैं।

214 व्यूज0 टिप्पणियाँ

हाल ही के पोस्ट्स

सभी देखें